item-thumbnail

खेती का भारतीय तरीका तकनीक का अर्थ नहीं है मशीनीकरण

October 18, 2018

रवि शंकर कार्यकारी संपादक इतिहास बताता है कि भारत ने ही दुनिया को खेती सिखाई। हजारों लाखों वर्षों से हम खेती करते आ रहे हैं। कहा तो यहाँ तक जाता है कि...

item-thumbnail

रसायनों से मुक्त खेती बनेगा किसान लखपति

June 2, 2018

अदृश्य काडसिद्धेश्वर स्वामी लेखक कनेरी मठ के महंत हैं। सिद्धगिरि मठ, कनेरी में पिछले 25-30 वर्षों से जैविक खेती की जा रही है। वर्ष 2014 से हमने छोटे-छ...

item-thumbnail

प्राकृतिक खेती से ही होगा सब का विकास

January 15, 2018

धर्मपाल सिंह लेखक किसान हैं। उत्तम खेती मध्यम बाण। निषिद्ध चाकरी भीख निदान। यह कहावत बचपन में सुनी थी। उस समय यह समझ नहीं आई थी। आज जब समझ में आई तो ल...

item-thumbnail

खेती का भारतीय तरीका तकनीक का अर्थ नहीं है मशीनीकरण

December 7, 2017

रवि शंकर कार्यकारी संपादक इतिहास बताता है कि भारत ने ही दुनिया को खेती सिखाई। हजारों लाखों वर्षों से हम खेती करते आ रहे हैं। कहा तो यहाँ तक जाता है कि...

item-thumbnail

कृषि का ऋषि

December 22, 2016

सुभाष पालेकर वो एक दिन जंगलों में निकला, उसने देखा कि वहां के पेड़-पौधे हरे-भरे और घने थे। उनकी शाखाओं पर फल और फूल लगे थे। ये देख उसके मन में एक विचार...

item-thumbnail

सस्टेनेबल एग्रीकल्चर की संकल्पना है गौ कृषि

January 28, 2016

रवि शंकर कहते हैं कि दुनिया को खेती करना राजा पृथु ने सिखाया। महाभारत के अनुसार  वह मानव इतिहास के चौथे राजा थे। पहले मनुष्य दूध, कन्दमूल खा-पीकर जीवन...

item-thumbnail

भूख और कुपोषण का खेल

197 September 9, 2014

कथित हरित क्रान्ति ने प्रोटीन के महत्वपूर्ण स्रोत माने जाने वाली हमारी दालों तथा तिलहनों में पाये जाने पोषक तत्वों की मात्रा में चौंकाने वाली हद तक कम...

item-thumbnail

नदियों का संरक्षण खोलेगा विकास की असीम संभावनाओं के द्वार

195 September 3, 2014

रवि शंकर : नदियां हमेशा से ही सभ्यताओं के विकास का केंद्र रही हैं। इसका कारण भी एकदम साफ है। नदियां न केवल पानी का अच्छा स्रोत थीं, बल्कि वे लोगों की ...

item-thumbnail

हमारी समृद्धि का आधार

191 August 31, 2014

भारत की समृद्धि का मूल आधार कृषि है। भारत के कृषि प्रधान होने का दावा हमारे किसानों ने सही साबित किया है। आज भारत, कृषि विकास में प्रमुख स्थान प्राप्त...