item-thumbnail

सागों का सरदार है बथुवा सबसे अच्छा आहार है बथुवा

February 16, 2019

साग और रायता बना कर बथुवा अनादि काल से खाया जाता रहा है लेकिन क्या आपको पता है कि विश्व की सबसे पुरानी महल बनाने की पुस्तक शिल्प शास्त्र में लिखा है क...

item-thumbnail

आजानुबाहु राम

December 14, 2018

विपुल विजय रेगे करोड़ों-अरबों में एक ही मनुष्य आजानुबाहु क्यों होता है। अभी अवतारों को लेकर कई बातें चली हैं। अवतारों के साधारण मनुष्य होने पर ज़ोर दि...

item-thumbnail

सोमनाथ मंदिर के बाणस्तम्भ का रहस्य

December 14, 2018

इतिहास बडा चमत्कारी विषय है। इसको खोजते खोजते हमारा सामना ऐसे स्थिति से होता है, की हम आश्चर्य में पड़ जाते हैं। पहले हम स्वयं से पूछते हैं, यह कैसे स...

item-thumbnail

झाला मन्ना की प्रेरक कहानी

October 18, 2018

फेसबुक पर आनंद कुमार सन 1920 के दौर में जब बंदूकों की सलामी वाले राजवाड़े होते थे तब झाला वंश के राजपूत तेरह बंदूकों की सलामी वाले धांगध्रा पर शासन कर...

item-thumbnail

आज भी उपयोगी है महाभारत की युद्ध कला

October 13, 2018

आनंद कुमार लेखक स्वतंत्र टिप्पणीकार हैं। भारतीय युद्ध कला को समझना हो तो हमें महाभारत पढऩी चाहिए। महाभारत के युद्ध में तीसरे दिन कौरवों की सेना गरुड़ ...

item-thumbnail

विकास की भेंट चढ़ते तालाब

July 14, 2017

फेसबुक पर आनंद कुमार जब जोर शोर से विकास की बात होती है तो अंग्रेजीदां एनजीओ-बाज से सस्टेनेबल डेवलपमेंट का जुमला भी उछालते हैं। ये सस्टेनेबल डेवलपमेंट...

item-thumbnail

मांस का मूल्य

July 14, 2017

मगध सम्राट बिंन्दुसार ने एक बार अपनी राज्य-सभा में पूछा – देश की खाद्य समस्या को सुलझाने के लिए सबसे सस्ती वस्तु क्या है…? मंत्री परिषद् त...

item-thumbnail

ज्योतिकराज देवज्ञ नीलकंठ ‘टोडरानंद’ के रचनाकार

May 18, 2017

फेसबुक पर डॉ. श्रीकृष्ण ‘जुगनू’ मध्य काल में जबकि संस्कृत के निबंध ग्रंथों को बढ़-चढ़कर रचा जा रहा था, काशी में एक ग्रंथ तैयार हुआ – ट...

1 2