item-thumbnail

सफल जीवन के लिए आवश्यक है प्रकृति का ज्ञान

May 18, 2017

करतार सिंह धीमान लेखक भारतीय आयुर्वेद अनुसंधान परिषद के महानिदेशक हैं। आयुर्वेद का सिद्धांत है कि जैसा हम इस प्रकृति में देखते हैं, ठीक वैसा ही हमारे ...

item-thumbnail

कैसे करें त्वचा की आयुर्वेदकि देखभाल

December 22, 2016

राजेश कोटेचा लेखक प्रसिद्ध आयुर्वेदाचार्य हैंँ त्वचा एक संस्कृत शब्द है और यह त्वक् संवरणे धातु से बना है जिसका अर्थ है शरीर को ढंकने वाला। त्वचा वात ...

item-thumbnail

प्रकृति से पाएं जीवन में सफलता

October 22, 2016

अभिमन्यू कुमार लेखक अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के निदेशक हैं। मनुष्य के जन्म के समय उसकी प्रकृति का निर्धारण होता है। विशेषकर गर्भाधान के समय ही...

item-thumbnail

स्वास्थ्य एवं यौवन का रक्षक आयुर्वेद

July 7, 2016

आज दुनिया भर में आयुर्वेद की लोकप्रियता बढ़ रही है। एलोपैथ चिकित्सा के साइड इफेक्ट से चिंतित रोगी आयुर्वेद की चिकित्सा की ओर जाते हैं। परंतु देखा यह ज...

item-thumbnail

बहुपयोगी है लौंग

March 21, 2016

हरेक घर की रसोई में लौंग निश्चित रूप से मिल जाएगी। आमतौर पर गरम मसाले में इसका प्रयोग किया जाता है। परंतु यह केवल एक मसाला भर नहीं है। अन्य मसालों की ...

item-thumbnail

लाभकारी है चिरायता

January 28, 2016

धरोहर ब्यूरो चिरायते का नाम अधिकांश लोगों ने सुन रखा होगा। बरसों से हमारी दादी-नानी चिरायते से बीमारियों को दूर भगाती रही है। असल में चिरायता एक जड़ी-ब...

item-thumbnail

कैसे बढ़ाएं बच्चें में रोग प्रतिरोधक क्षमता

December 7, 2015

वैद्य भगवान सहाय शर्मा लेखक प्रसिद्ध बाल रोग विशेषज्ञ हैं। हम स्वस्थ रहें, इससे अधिक चिंता हमें इस बात की होती है कि हमारे बच्चे स्वस्थ रहें। इसके लिए...

item-thumbnail

देश का स्वास्थ्य सुधारने के लिए जरूरी है अपनी प्रकृति का ज्ञान

October 12, 2015

आयुर्वेद के अनुसार यदि व्यक्ति अपने खान-पान और रहन सहन को अपनी प्रकृति के अनुसार रखे तो उसके बीमार पडऩे की संभावना बहुत कम हो जाती है। हमारा मानना है ...

item-thumbnail

जोड़ों का दर्द और पथरचट्टा

0 May 28, 2015

जोड़ों के दर्द की तकलीफ को वही बता और समझ सकता है जो स्वयं इस पीड़ा से गुजरा हो या गुजर रहा हो। रियूमैटाइड अर्थराइटिस के नाम से प्रसिद्ध जोड़ों के दर्...

item-thumbnail

आत्मविश्वास से बढ़ेगा आयुर्वेद का गौरव

0 January 21, 2015

यहां प्रस्तुत है विश्व आयुर्वेद कांग्रेस के समापन समारोह में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिये गये भाषण का मूल पाठ   विश्व आयुर्वेद कांग्रेस ...

1 2 3 4