item-thumbnail

प्रख्यात शायर सम्पादक एवं इस्लामिक मामलों के विशेषज्ञ श्री “तुफैल चतुर्वेदी”  एक सार्थक भूमिका के साथ  वैद्य गुरुदत्त  को स्मरण कर रहे हैं

December 11, 2018

सामान्य बात है कि व्यक्ति, संस्था, दल, क्लब, प्रतिष्ठान, समाज के विभिन्न अंग उन्नति करते हैं या अवनति को प्राप्त होते हैं। वह चौकन्ने होते हैं तो स्वय...

item-thumbnail

एक निर्भीक राष्ट्रवादी इतिहासकार एवम् उपन्यासकार : वैद्य गुरुदत्त

December 8, 2018

गुंजन अग्रवाल विज्ञान के विद्यार्थी और पेशे से वैद्य होने के बावजूद गुरुदत्त (08 दिसम्बर, 1894-08 अप्रैल, 1989) बीसवीं शती के एक ऐसे सिद्धहस्त लेखक थे...

item-thumbnail

वैद्य गुरूदत्त और एम.एन.राय

December 7, 2018

उत्तर प्रदेश के अवध प्रान्त में जिला रायबरेली के पड़ौस में जिला सुलतानपुर में एक ताल्लुकेदारी अमेठी थी। इस ताल्लुकेदारी का मालिक राजा कहाता था और राजा ...

item-thumbnail

विलक्षण रचनाकार हैं वैद्य गुरुदत्त

December 5, 2018

रवि शंकर आजकल एक शब्द काफी प्रचलन में है जेनरेशन गैप यानी पीढ़ियों का अंतर। आखिर यह जेनरेशन गैप क्या है? क्यों आज की पीढ़ी अपनी पिछली पीढ़ी से स्वयं क...

item-thumbnail

सनातनी परंपरा एवं आयुर्वेद के अनुसार सौंदर्य से स्वास्थ्य तक हमारे जीवन में केले के पौधे की उपयोगिता

November 14, 2018

अर्चिता भारद्वाज वर्तमान समय में भारत में बढ़ते सर्वाधिक शुगर एवं कैंसर के मरीजों की संख्या को देखते हुए अचानक मेरा मन प्रकृति की ओर खिंचा चला गया मुझ...

item-thumbnail

किसी समय बारिश हमारी इच्छा के अनुसार होती थी।

May 12, 2018

प्रख्यात गौ विशेषज्ञ श्री सुबोध कुमार बताते हैं कि यदि हम भारतीय ज्ञान परंपरा और व्यवहार को देखें तो पाएंगे कि हमने मानसून को अपनी इच्छानुसार बरसने वा...

item-thumbnail

संसार का सर्वाधिक संगठित समाज है हिन्दू

April 30, 2018

हिंदू समाज विश्व का सबसे संगठित समाज है हांलाकि आज भारत में तरह-तरह के ऐसे संगठन उत्पन्न हो गए हैं जो हिंदू समाज की मुख्य समस्या उसका असंगठित होना बता...

item-thumbnail

डिसीजन मेकिंग पावर को दुरुस्त करना है तो देसी गाय का घी खाइए

April 16, 2018

सवाल यह है कि क्या फूड इंडस्ट्री ने सफोला, फार्च्यून रिफाइंड, एक्स्ट्रा वर्जिन ऑलिव ऑयल जैसे तेलों को दिल के लिए लाभकारी बताकर घर-घर पहुंचाने के लिए घ...

item-thumbnail

एक बार फिर से समाधान है ‘‘ शून्य लागत खेती ’’

March 22, 2018

दिल्लीवासियों की एक बड़ी समस्या है प्रदूषण। आमतौर पर हम कारखानों और खेत में जलने वाली पराली को ही इसका जिम्मेदार मानते रहे हैं, परंतु अब पता चल रहा है ...

1 2