item-thumbnail

थाईलैण्ड का राष्ट्रीय ग्रन्थ ‘रामाख्यान’ या ‘रामकीर्ति’

June 17, 2019

अपने देश में राम को राष्ट्रीय महापुरुष कहने में राजनीतिज्ञों को हीनता का बोध होता है और उनको राम तथा रामायण में साम्प्रदायिकता दिखाई पड़ती है। किन्तु द...

item-thumbnail

अंतरराष्ट्रीय मुद्राओें पर हिंदू देवी-देवताओें का अंकन

June 7, 2019

स्वाधीनता के पश्चात अपने देश में कागज़ी मुद्राओं और सिक्कों पर हिंदू देवी-देवताओं का अंकन नहीं किया गया है। स्वाधीनता से पूर्व, देशी रियासतों में मुद्र...

item-thumbnail

एक वृक्ष दस पुत्र समान

June 5, 2019

भारतीय ऋषियों ने मानव-मस्तिष्क को उचित दिग्दर्शन कराने के लिए वेद-संहिता, ब्राह्मण, आरण्यक उपनिषद्, पुराण, प्रभृति उत्कृष्ट ग्रंथों की उद्भावना की, जि...

item-thumbnail

अयोध्या की राजकुमारी, जो कोरिया की महारानी बनी

May 31, 2019

भारत के सेक्युलर प्रजाति के लोग यह कहने से शर्माते हैं कि हम श्रीराम के वंशज हैं, किन्तु क्या आप जानते हैं कि भारत से पाँच हज़ार किमी दूर कोरिया के निव...

item-thumbnail

एक क्रान्तिकारी, जिसने जेल में कील और कोयले से लिखीं 10 हज़ार पंक्तियाँ

May 28, 2019

राजस्थान की वर्तमान काँग्रेस सरकार ने पिछली भाजपा सरकार के कई निर्णयों को बदल दिया है, जैसे— योग दिवस का निषेध और इतिहास की पाठ्य पुस्तकों में व्यापक ...

item-thumbnail

सुबह का नाश्ता पूर्ण भोजन की तरह लेना क्यों आवश्यक है?

May 25, 2019

अन्य शब्दों में कहें तो “एकाशनभोजनं सुखपरिणामकराणां” व “कालभोजनमारोग्यकराणां” अर्थात एक बार व नियत काल या समय पर भोजन करना–न कि जब इच्छा हो तब—क...

item-thumbnail

क्या इराक के 5 लाख यजीदी प्राचीन यजुर्वेदी हिन्दू है ?

May 22, 2019

यह लोग स्वयं को न तो मुसलमान मानते हैं, न पारसी और न ईसाई। यह अपने को ‘यजीदी’ कहते हैं। इस समुदाय के उपासना-स्थल हिन्दू मंदिरों की तरह होते हैं, ये सू...

item-thumbnail

आधुनिक शिक्षा-प्रणाली ने कितने पाणिनि पैदा किए हैं?

May 18, 2019

भारतीय शिक्षा व्यवस्था के सन्दर्भ में कुछ प्रश्न मेरे मन को विगत कुछ दिनों से लगातार झकझोर रहे हैं। यह एक निर्विवाद तथ्य है कि पूरे देश में शिक्षा-प्र...

item-thumbnail

आचार्य रघुवीर : ज्ञान के अक्षय कोष, एक महापुरुष, एक द्रष्टा, जिसे देश ने भुला दिया…

May 14, 2019

गुंजन अग्रवाल आधुनिक युग में कुछ नाम ऐसे हैं, जिन्हें बड़ी निमर्मता से भुला दिया गया है। इन नामों में वैद्य गुरुदत्त (1894-1989), डॉ. आचार्य रघुवीर (19...

item-thumbnail

श्रीमज्जगद्गुरु आद्य शंकराचार्य और शंकराचार्य-परम्परा

May 9, 2019

भारत में वैदिकधर्म के पुनर्जागरण के इतिहास में भगवत्पाद जगद्गुरु आद्यशंकराचार्य का नाम सर्वोपरि है। आद्य शंकराचार्य के महान् व्यक्तित्व में धर्म-सुधार...

1 2 3 6