Klimom ने गौशाला में उत्कृष्टता और शीर्ष गुणवत्ता वाला A2 दूध डिलीवर करने के लिए प्रतिष्ठित

World Milk Day के अवसर पर Allola Divya Reddy, संस्थापक, Klimom को स्वदेशी गिर गायों के पालन के क्षेत्र में असाधारण कार्य करने तथा उनका दूध उत्पादन बढ़ाने के लिए सर्वोत्तम प्रबंधन विधियां अपनाने के लिए भारत सरकारकी ओर सेप्रतिष्ठित Gopal Ratna 2018 Award प्रदान किया गया। यह पुरस्कार नेशनल एग्रीकल्चर साइंस कॉम्प्लेक्स, नई दिल्ली में 1 जून को आयोजित एक समारोह में Allola Divya Reddy को कृषि मंत्री Shri Radha Mohan Singh द्वारा प्रदान किया गया।

इन पुरस्कारों के लिए नामांकन की प्रक्रिया काफी कठोर है। राज्य सरकार के अधिकारी, आवेदनों का भौतिक सत्यापन (मौके पर जाकर जाँच) करते हैं और फिर राज्य समिति को भेजते हैं जो राज्य के DVOs द्वारा दाखिल तीन सिफारिशों का मूल्यांकन करती है। तब राज्य समिति, राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए सर्वोत्तम नाम भेजती है। उसके बाद नई दिल्ली की राष्ट्रीय समिति सभी राज्यों में चुने गए फार्मों का मौके पर जाकर निरीक्षण करती है और फिर भारत के उत्तरी और दक्षिणी जोन से सर्वोत्तम फार्मों का चयन करती है।

पुरस्कार जीतने के कई मापदंड
पुरस्कार का विजेता चुनने के लिए कई मापदंड अपनाए जाते हैं। प्रजनन विधियां, चारे की गुणवत्ता, खुले क्षेत्र और स्वच्छता के संदर्भ में आश्रय (शेल्टर) प्रबंधन, और रखरखाव की विधियां आदि कुछ खास चीज़ें हैं जिन पर विचार किया जाता है। तकनीकी प्रबंधन और पशुपालन विधियां अन्य मापदंड हैं।

इस पुरस्कार में नामांकन के लिए कठोर प्रक्रिया तथा मूल्यांकन के लिए उससे भी अधिक कठिन नियमों को महत्त्व दिया जाता है। 200+ से अधिक गायों की गौशाला वाली Klimom केवल गिर सांडों से गायों का प्रजनन कराती है और इस तरह से स्वदेशी गिर गायों के संरक्षण व उनकी संख्या वृद्धि में योगदान करती है। इसके अलावा, गायों के लिए खुले चरागाह हैं और उनको आर्गेनिक चारा खिलाया जाता है, जिससे उनको प्राकृतिक वातावरण मिलता है। गायों के लिए घास भी फार्म में ही उगाई जाती है।

इस पुरस्कार के विषय में अपनी प्रतिक्रियाव्यक्त करते हुए Allola Divya Reddy ने कहा कि, “मुझे प्रसन्नता है कि बच्चों को गाय का ताज़ा A2 दूधउ पलब्ध कराने के हमारे मिशन को भारत सरकार ने सम्मानित किया है।”

Klimom – भारत में भारतीय गायों की सर्वोत्तम गौशाला
Klimom Wellness and Farms को Divya द्वारा अपने बच्चों को शुद्ध दूध उपलब्ध कराने के उद्‌देश्य से स्थापित किया गया था। उनको यह देखकर निराशा होती थी कि कोई भी ब्रांड ताज़ा दूध नहीं उपलब्ध कराता था। इसलिए, उनकी जिज्ञासा उनको गुजरात ले गई और उन्होंने शुद्ध गिर नस्ल की गायें खरीदीं। समिति को यह देखकर काफी सुखद आश्चर्य हुआ कि गायों के लिए five star सुविधाओं वाली विशाल गौशाला स्थापित की गई थी। गौशाला की जमीन को सही तरह से घेर दिया गया, ताकि गायों को पूरी सुविधा मिले। बड़े आर्गेनिक प्लांटेशन, गायों को भरपूर, ताज़ा चारा प्रदान करते हैं। गायें पूरी तरह स्वतंत्र रहती हैं I यहां गायें परिवार की तरह रहती हैं और बैल उनका गर्भाधान करते हैं। कोई कृत्रिम गर्भाधान नहीं कराया जाता। बछड़ों और बैलों की उचित देखभाल की जाती है। मच्छरदानियां- गौशाला में मच्छरदानियां लगाई गई हैं, ताकि गायों को मच्छर न काटें। दूध निकालने से पहले बछड़ों को दूध पिलाया जाता है।

गिर गायों के बारे में जानकारी
Divya के उद्‌देश्य और मिशन को वास्तव में सराहा गया है। किसी वित्तपोषण या सरकारी सहायता के बिना, उन्होंने केंद्रीय स्तर पर भारतीय देशी गायों को पालने का विचार लागू किया है। उनकी इस पहल ने अनेक स्थानीय किसानों को भी प्रेरित किया है जो देशी गायें पाल रहे हैं। Divya Reddy स्वदेशी गौशालाएं स्थापित करने के लिए सलाह भी देती हैं और किसानों को इस महान कार्य से जोड़ने के लिए प्रोत्साहित करती हैं।

सबसे ताज़ा और शुद्ध दूध
Klimom के अनेक ग्राहक हैं-उनमें अधिकांश युवा महिलाएं हैं जिनके बच्चे नवजात या छोटे हैं और जो इस बात को पसंद करती हैं कि A2 दूध ताज़ा होता है और ग्राहक को बस 2 घंटे के अंदर डिलीवर किया जाता है। यह दूध पाश्चुरीकृत नहीं होता और स्वास्थ्यवर्धक गुणों से भरपूर होता है। इसके अलावा, इस दूध को टेम्परप्रूफ स्टील फ्लॉस्कों में पैक करके डिलीवर किया जाता है। वे एक बहुत सक्रिय YouTube और Facebook चैनल से भी ग्राहकों को जागरूक करती हैं।

स्वदेशी गाय का मिशन अपनाने के लिए किसानों को प्रोत्साहन
इस पुरस्कार को प्राप्त करने की खुशी उन्होंने अपने इन शब्दों में जाहिर की, “पिछले 3 वर्ष काफी कठिन थे। मैंने भारत में सर्वोत्तम गौशाला स्थापित की। Gopal Ratna पुरस्कार इसी कठिन परिश्रम का परिणाम है। मुझे विश्वास है कि मैं और अधिक किसानों को स्वदेशी गायें पालने के लिए प्रोत्साहित कर सकूंगी और यह हमारे लिए परस्पर लाभकारी स्थिति होगी।”

गाय से प्राप्त आश्चर्यजनक उत्पादःशुद्ध भारतीय गाय का घी और दूध से बनी मिठाईयां
Klimom केवल दूध ही नहीं उपलब्ध कराती, बल्कि इससे काफी बढ़कर पेशकश करती है। Klimom भारतीय गाय का घी, घास खाने वाली भारतीय गिर गायों से प्राप्त, भारतीय गाय का सबसे शुद्ध घी है, और इसके ग्राहक पूरे भारत के साथ अमेरिका में भी हैं। Klimom ने हाल ही में शुद्ध दूध से बनी मिठाईयां: श्रीखंड, गुलाबजामुन और रसगुल्ला भी पेश किए हैं, जिनको ग्राहकों द्वारा खूब-खूब पसंद किया जा रहा है। ये उत्पाद जल्दी ही देश के सभी प्रमुख स्टोर्स पर, तथा ई-कॉमर्स ग्रॉसरी स्टोर्स पर उपलब्ध होंगे।

भारतीय गाय पर आधारित खेती
गौमूत्र-भारतीय गाय का गौमूत्र कैंसर रोगियों द्वारा उपयोग किया जा रहा है, जो उनके प्रयास की काफी सराहना करते हैं। वे भारतीय गाय के गोबर से बनी धूपबत्तियां, तथा होम/हवन के लिए गाय के गोबर के उपले, और आर्गेनिक खेती के लिए प्राकृतिक उर्वरक भी उपलब्ध करा रही हैं।

अपने इस महान उद्‌देश्य से प्रेरित Divya को सबसे ज्यादा प्रसन्नता अपनी विकसित होती गौशाला में मिलती है जहां 200 से अधिक शुद्ध नस्ल वाली गिर गायें हैं। भारत में गिर गायों की संख्या बढ़ाना उनका विज़न है। दशकों पहले गिर गायें ब्राजील को निर्यात की गई थीं और ब्राजील के लोग A2 दूध के उत्कृष्ट गुणों से लाभान्वित होते हैं।

Divya ने बताया कि, “मैं भारतीय गिर गायों की संख्या काफी बढ़ाना चाहती हूं। मैं चाहती हूं कि भारत की नई पीढ़ी स्वस्थ बने। गौशाला के लिए Gopal Ratna पुरस्कार, Oscar पुरस्कार के जैसा है। यह पुरस्कार, किसानों को संदेश देगा कि स्वदेशी गायों पर ध्यान केंद्रित करना अधिक उत्तम है। यह पुरस्कार हासिल करने से मेरा संकल्प और भी मज़बूत बना है। मैं भारतीय गायों के लिए और भी बहुत कुछ करना, तथा उनकी खोई प्रतिष्ठा लौटाना चाहती हूं।”