डिसीजन मेकिंग पावर को दुरुस्त करना है तो देसी गाय का घी खाइए

सवाल यह है कि क्या फूड इंडस्ट्री ने सफोला, फार्च्यून रिफाइंड, एक्स्ट्रा वर्जिन ऑलिव ऑयल जैसे तेलों को दिल के लिए लाभकारी बताकर घर-घर पहुंचाने के लिए घी एवं कच्ची घानी आदि के अन्य पारंपरिक तेलों को दिल के लिए हानिकारक बताकर बदनाम किया था। जबकि भोजन में लिए जाने वाले चिकने पदार्थों में घी विशेष रुप से देसी गाय का घी अनेक प्रकार से लाभकारी है। इस प्रकार का घी न केवल हमारी सूझबूझ को बढाकर डिसीजन मेकिंग पावर को दुरुस्त करता है बल्कि चेहरे के ओज को भी बढाता है। इस प्रकार से देसी घी का सेवन महंगे कॉस्मेटिक उत्पादों के अंधाधुंध इस्तेमाल से भी बचाता है। विस्तार से घी के प्रयोग के लाभ जानने के लिए क्लिक करें more…